विशेष सूचना एवं निवेदन:

मीडिया से जुड़े बन्धुओं सादर नमस्कार ! यदि आपको मेरी कोई भी लिखित सामग्री, लेख अथवा जानकारी पसन्द आती है और आप उसे अपने समाचार पत्र, पत्रिका, टी.वी., वेबसाईटस, रिसर्च पेपर अथवा अन्य कहीं भी इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सम्पर्क करें :rajeshtitoli@gmail.com अथवा मोबाईल नं. 09416629889. अथवा (RAJESH KASHYAP, Freelance Journalist, H.No. 1229, Near Shiva Temple, V.& P.O. Titoli, Distt. Rohtak (Haryana)-124005) पर जरूर प्रेषित करें। धन्यवाद।

विशेष लेख सीधे मंगवाएं

विशेष लेखों के लिए आप सीधे ईमेल rajeshtitoli@gmail.com अथवा मोबाईल 09416629889 नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं। ................................................... Note : ब्लॉग पर विज्ञापन देने के लिए सम्पर्क करें। प्रारंभिक विज्ञापन दर प्रतिमाह मात्र 1000.00 रूपये (साईज 6"X2") रखी गई है।

शनिवार, 24 सितंबर 2016

जानिए चमगादड़ के रहस्य!

चमगादड़
जानिए चमगादड़ के रहस्य!
*********************
क्या आपने चमगादड़ देखा है? क्या आपने इसकी आवाज सुनी है? क्या आपको पता है कि यह पेड़ पर कैसे लटकते है? इन्हें शुभ माना जाए या अशुभ? इस तरह के सवालों को जानने के लिए यह जानकारी आपकी सेवा में प्रस्तुत है।
चमगादड़ को देखने, सुनने व पेड़ों पर लटका देखने के लिए दिए गए विडियो लिंक पर क्लिक करें। विडियो में दिखाई दे रहे चमगादड़ कैथल जिले के पुराना बस स्टैण्ड के नजदीक जवाहर पार्क से फिल्माए गए हैं। 
चमगादड़ आकाश में उड़ने वाले स्तनधारी प्राणी हैं। ये एकमात्र एसे स्तनधारी जीव हैं जोकि उड़ सकते हैं। ये पूर्णतः निशाचर होते हैं। ये पेड़ों पर अथवा अंधेरी गुफाओं में उलटे लटके हुए मिलेंगें। ये अन्य पक्षियों की तरह जमीन से उड़ान नहीं भर सकते, इसलिए ये उलटे लटकते हैं। इनके पैरों के उभार पीछे की तरफ होते हैं। जिसके कारण ये आसानी से पेड़ की शाखाओं व दीवारों पर लटक सकते हैं। 
प्रचलित मान्यताओं के अनुसार चमगादड़ का घर में घूसना अपशकुन माना जाता है, लेकिन यदि चमगादड़ घर में अपना बसेरा बना ले तो वह समृद्धिदायक समझा जाता है। चीनी फेंगसुई चमगादड़ को घर में रखने से लंबी आयु, समृद्धिदायक, सौभाग्यवर्द्धक एवं बिमारियों से मुक्ति देने जैसे लाभ मिलने की धारणा देखने को मिलती है। 
बिहार की ऐतिहासिक स्थली वैशाली गढ़ में चमगादड़ों की विशेष तौरपर पूजा की जाती है। यहां के लोगों का मानना है कि चमगादड़ लक्ष्मी के वाहन के समान होते हैं और घर में समृद्धि लाते हैं। उनका कहना है कि जहां चमगादड़ों का वास होता है, वहां धन की कमी नहीं होती। इसके साथ ही लोगों की मान्यता है कि यह उनकीं रक्षा भी करते हैं।
वैज्ञानिकों का मानना है कि चमगादड़ों के शरीर से जो गन्ध निकलती है, वह उन विषाणुओं को नष्ट कर देती है जो मानव शरीर के लिए नुकसानदेह माने जाते हैं।आस्ट्रेलिया शहर के एर्थटन शहर में स्थित टोल्गा बैट हास्पिटल में चमगादड़ों के बच्चों का इलाज किया जाता है। ये वो बच्चे होते हैं जो या तो पैरालाइसिस के शिकार होते हैं या फिर जिनकी माँ नहीं होती हैं। 
अब लगे हाथ इस विडियो लिंक को क्लिक करके चमगादड़ों की दुनिया को भी देख लीजिए।



प्रस्तुति:
राजेश कश्यप 
(स्वतंत्र पत्रकार, लेखक एवं समीक्षक)
मोबाईल नं. 9416629889